छोटे भाई की मौत के 15 मिनट बाद बड़े ने भी यह कहते हुए कि मुझे अकेला छोड़ कहां जा रहा है, मैं भी साथ आ रहा हूं…छोड़ी दुनिया

stba

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!

दोनों भाइयों की मौत के बाद जब उनका दोनों का एक साथ अंतिम संस्कार किया गया तो सभी की आंखें नम थी। 11 दिसम्बर दोनों भाइयों की श्रद्धांजलि सभा आयोजित की जाएगी। इसमें काफी लोगों के आने की उम्मीद है।

L.C.Baid Childrens Hospiatl

रेवाड़ी, 11 दिसम्बर। हरियाणा के रेवाड़ी जिले के खंड खोल के गांव प्राणपुरा (गोपालपुरा) में एक ऐसा मामला सामने आया है, जहां छोटे भाई की मौत के 15 मिनट बाद बड़े भाई ने भी इस वियोग में दम तोड़ दिया। एक साथ दोनों भाइयों की मौत से गांव में मातम छा गया। गांव प्राणपुरा में 2 भाई भोलूराम और प्रभूदयाल एक साथ रहते थे और इनमें गहरा प्रेम था। तीसरा भाई बनवारी लाल अलग रहता था। भोलूराम व प्रभूदयाल एक-दूसरे के बिना नहीं रहने की बात अक्सर किया करते थे।

mona industries bikaner

74 वर्षीय छोटा भाई प्रभूदयाल लंबी बीमारी से ग्रस्त था और इस बीमारी के चलते उसकी मौत हो गई। मौत की बात सुनते ही 84 वर्षीय भोलूराम को गहरा सदमा लगा और कहा कि भाई मुझे अकेला छोड़कर कहां जा रहा है, मैं भी साथ आ रहा हूं। इतना कहने के बाद वह गुमशुम होकर बैठ गया और 15 मिनट बाद उनकी मौत हो गई।

रिटायरमेंट के बाद दोनों रहते थे हमेशा साध
प्रभूदयाल के बेटे राकेश कुमार ने कहा कि उनके पिता सीआरपीएफ से रिटायर्ड थे और एक गंभीर बीमारी ने उन्हें घेर लिया था। उनके ताऊ भोलूराम के साथ बचपन से ही गहरा लगाव था और एक-दूसरे के बिना नहीं रह सकते थे। पिता के रिटायरमेंट के बाद ये दोनों हमेशा साथ रहते थे। दोनों भाइयों की चिता एक साथ जलाई गई। दोनों के अंतिम संस्कार के पूरा गांव उमड़ पड़ा। इस दौरान हर किसी की आंखों में आंसू थे।

थार एक्सप्रेस
CHHAJER GRAPHIS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *