एक फैक्ट्री में 200 किलो सड़े रसगुल्ले, मावा व चाशनी करवाई नष्ट

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!

बीकानेर , 8 नवम्बर। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की टीमें शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण इलाकों में भी प्रतिदिन दूषित खाद्य पदार्थों को नष्ट कर रही हैं।
पहले त्योहारी सीजन और बाद में शादियों का सीजन देखते हुए जिले में खाद्य पदार्थों के नमूने लेने एवं निरीक्षण का कार्य प्रतिदिन किया जा रहा है। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की टीमें शहरी क्षेत्र के अलावा ग्रामीण इलाकों में भी प्रतिदिन दूषित खाद्य पदार्थों को नष्ट कर रही हैं।

L.C.Baid Childrens Hospiatl

मंगलवार को खाद्य सुरक्षा दल ने लूणकरनसर हाइवे स्थित एक रसगुल्ला निर्माण इकाई पर कार्रवाई की। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.मोहम्मद अबरार पंवार ने बताया कि मैसर्स गगन मिल्क फूड की रसगुल्ला निर्माण ईकाई में रसगुल्ला, मीठा मावा व घी का निर्माण किया जा रहा था। रसगुल्ला निर्माण इकाई में रसगुल्ला, मीठा मावा व घी का उत्पादन किया जा रहा था।

schoks manufacring

निरीक्षण के दौरान निर्माण इकाई में पुरानी खट्टी चाशनी लगभग 120 किलो, जंग लगे पीपों में पुराने बदबूदार रसगुल्ले तथा फफूंद लगा मावा लगभग 80 किलो कुल मिला कर 200 किलो खाद्य सामग्री को मौके पर ही जनहित में नष्ट करवाया गया।

कार्रवाई के दौरान रसगुल्ला, मीठा मावा, घी तथा चमचम के कुल 4 नमूने लिए गए, जिसे जांच के लिए जन स्वास्थ्य प्रयोगशाला भिजवाया जाएगा। जांच रिपोर्ट प्राप्त होने के पश्चात नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। कार्रवाई में जिले के खाद्य सुरक्षा अधिकारी भानु प्रताप सिंह, श्रवण कुमार वर्मा, सुरेंद्र कुमार तथा राकेश गोदारा शामिल रहे।

GYPSUM POWDER

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *