चूरू जिला के 6 सरकारी समाचार

stba

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!

जिला पेंशनर समाज के सदस्यों ने किया साप्ताहिक स्वच्छता अभियान अन्तर्गत श्रमदान

L.C.Baid Childrens Hospiatl

चूरू, 04 जनवरी। राजस्थान पेंशनर समाज की जिला शाखा के सदस्यों ने जिला अध्यक्ष बिरजू सिंह राठौड़ के मार्गदर्शन में साप्ताहिक स्वच्छता अभियान अन्तर्गत गुरुवार को कलेक्ट्रेट कार्यालय के पीछे की सड़क एवं पेंशनर समाज कार्यालय के सामने की सड़क पर श्रमदान करते हुए आक, कीकर और कांटेदार झाड़ियों को काटकर मार्ग को साफ किया तथा मिट्टी को समतल कर कूड़ा -कचरा व पॉलीथिन की थैलियों को बीनकर उनका निस्तारण किया।

mona industries bikaner

राजस्थान पेंशनर समाज जिला उपाध्यक्ष ओम प्रकाश तंवर ने बताया कि पेंशनर समाज ने गत सप्ताह कलेक्ट्रेट परिसर में सफाई कर यह निर्णय लिया था कि सप्ताह में एक दिन नियमित रूप से स्वच्छता अभियान का संचालन कर कलेक्ट्रेट परिसर और पेंशनर समाज कार्यालय के आसपास के क्षेत्र की सफाई की जायेगी।

इस दौरान सेवानिवृत्त अधीक्षण अभियंता सोहनलाल फगेड़िया, सचिव पूरनमल सोनी, उपाध्यक्ष हरिसिंह, संयुक्त सचिव शेर सिंह चौहान, कोषाध्यक्ष घनश्याम शर्मा, प्रचार मंत्री लक्ष्मण सिंह बीका, वरिष्ठ पेंशनर रामचन्द्र कांटीवाल, महावीर प्रसाद लखेरा सहित अन्य ने श्रमदान किया।

सम्पर्क पोर्टल पर शिकायतों के निस्तारण की समीक्षा हेतु बैठक 5 जनवरी को

चूरू, 04 जनवरी। जिला कलक्टर सिद्धार्थ सिहाग की अध्यक्षता में शुक्रवार, 5 जनवरी को सवेरे 11.30 बजे जिला परिषद सभागार में सम्पर्क पोर्टल पर प्राप्त शिकायतों के निस्तारण की समीक्षा बैठक आयोजित की जाएगी।

एडीएम लोकेश गौतम ने बताया कि बैठक में विभागीय 100 दिवसीय कार्ययोजना अन्तर्गत सम्पर्क पोर्टल पर प्राप्त शिकायतों के निस्तारण के संबंध में विस्तृत चर्चा की जाएगी।

गणतंत्र दिवस की तैयारियों के लिए बैठक 08 जनवरी को

चूरू, 04 जनवरी। जिला कलक्टर सिद्धार्थ सिहाग की अध्यक्षता में 08 जनवरी को सवेरे 11 बजे जिला कलक्ट्रेट सभागार में गणतंत्र दिवस की तैयारियों के लिए बैठक आयोजित की जाएगी।

एडीएम लोकेश गौतम ने संबंधित अधिकारियों को बैठक में उपस्थित रहने व आवश्यक तैयारियों के निर्देश दिए है।
——
कदम दर कदम साथ चलकर पूरा करेंगे विकसित भारत का संकल्प-  कस्वां

सांसद राहुल कस्वां ने किया शहरी क्षेत्र में विकसित भारत संकल्प यात्रा शिविर का अवलोकन, योजनाओं की जानकारी देते हुए युवाओं से की सहयोग की अपील

चूरू, 04 जनवरी। सांसद राहुल कस्वां ने कहा है कि किसान, युवा, महिला व बुजुर्गों सहित सभी के सहयोग से कदम दर कदम चलकर हम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विकसित भारत के संकल्प को पूरा करेंगे। इसके लिए युवाओं की भागीदारी अहम रहेगी। युवाओं को अपनी उर्जा का उपयोग करते हुए समाज के प्रत्येक पात्र व वंचित व्यक्ति को योजना का लाभ दिलाते हुए मुख्यधारा मेें शामिल करना है।

सांसद कस्वां ने गुरुवार को जिला मुख्यालय स्थित राम मंदिर कैम्पस में विकसित भारत संकल्प यात्रा के शहरी क्षेत्र शिविर में पहुंचकर मां सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलन व पुष्प अर्पित कर शुभारम्भ किया। सांसद कस्वां ने विकसित भारत संकल्प यात्रा शिविर का अवलोकन कर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वर्ष 2047 तक भारत को दुनिया का सबसे शक्तिशाली और विकसित राष्ट्र बनाने का जो सपना देखा है, उसे साकार करने के लिए हर व्यक्ति को आत्मनिर्भर और सशक्त होने की जरूरत है। कैम्प का उद्देश्य प्रधानमंत्री मोदी के संदेश के साथ समाज के प्रत्येक वंचित व पात्र व्यक्ति को केन्द्र सरकार की योजनाओं का लाभ दिलाते हुए वर्ष 2047 तक भारत को समृद्ध व विकसित राष्ट्र बनाना है। इस संकल्प में युवाओं की सर्वाधिक भागीदारी आवश्यक है। सामाजिक व नैतिक दायित्वों का निर्वहन करते हुए युवा अपने परिवेश के लोगों को जागरूक करें तथा पात्र व्यक्तियों का पंजीकरण करवाते हुए उनको लाभान्वित करें।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की योजनाएं प्रत्येक वर्ग के कल्याण के लक्ष्य को ध्यान में रखकर बनाई गई है। जरूरत इस बात की है कि हम सभी इन योजनाओं को समाज के अंतिम छोर के व्यक्ति तक पहुंचाने के लिए मेहनत करें। केन्द्र सरकार की मंशा है कि प्रत्येक गरीब, वंचित व पात्र व्यक्ति को योजनाओं का लाभ पहुंचे तथा विकसित भारत की संकल्पना का सहभागी बने।

कस्वां ने पीएम स्वनिधि योजना, पीएम उज्ज्वला योजना, आयुष्मान भारत हैल्थ कार्ड, प्रधानमंत्री जीवन सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना सहित शिविर में सम्मिलित योजनाओं के बारे में जानकारी दी।

इस मौके पर उन्होंने पीएम स्वनिधि योजना में ऋण प्राप्त करने वाले लाभार्थियों को सेंक्शन लेटर प्रदान किए तथा उपस्थितों को विकसित भारत के संकल्प की शपथ दिलवाई।

इंजीनियर रवि आर्य ने कहा कि पीएम मोदी ने आत्मनिर्भर, सुरक्षित, समृद्ध व सुदृढ़ भारत के साथ विकसित भारत की परिकल्पना की है। इस परिकल्पना में कमजोर और वंचित वर्ग को लक्षित वर्ग रखा गया है। हमारा दायित्व पीएम मोदी ने मंशानुरूप प्रत्येक पात्र व वंचित व्यक्ति को आधारभूत सुविधाएं मुहैया करवाते हुए समृद्ध बनाना है। इसके लिए प्रत्येक लाभान्वित व्यक्ति को आमजन व वंचित व्यक्ति को योजनाओं के बारे में जागरूक करना है।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए दौलत तंवर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश तेजी से प्रगति के पथ पर अग्रसर हो रहा है तथा पूरी दुनिया में भारत की एक जोरदार छवि निर्मित हो रही है। हमें केंद्र सरकार की योजनाओं का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार करना चाहिए ताकि योजनाओं की पहुंच अधिक से अधिक लोगों तक सुनिश्चित हो सके।

इस दौरान फतेहचंद सोती, नरेंद्र काछवाल व राकेश दाधीच ने भी विचार व्यक्त करते हुए केंद्र सरकार की योजनाओं की सराहना की। पुत्री पाठशाला की छात्राओं ने सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी। नगर परिषद आयुक्त अनीता खीचड़ ने यात्रा के दौरान आमजन को दिए जा रहे लाभ के बारे में जानकारी दी। संचालन किशन उपाध्याय ने किया।


इस दौरान एक्सईएन पूर्णिमा यादव, सहायक प्रशासनिक अधिकारी सीताराम मीणा, महेन्द्र, भारतभूषण पूनियां, राजेश कुमार, कमलेश, योगेश ढाका, प्रकाश कस्वां गफ्फार, सतपाल सहित बड़ी संख्या में अधिकारी, कर्मचारी, लाभार्थी एवं नागरिक मौजूद थे।
——-
चूरू के खिलाड़ियों ने जीता रजत, हुआ स्वागत

चूरू, 04 जनवरी। बाँसवाड़ा में आयोजित हुई 7वीं सिविल सेवा वॉलीबाल प्रतियोगिता में सिल्वर मैडल लेकर लौटी चूरू टीम का गुरुवार को अतिरिक्त जिला कलक्टर लोकेश गौतम सहित कार्मिकों ने स्वागत किया।

इस मौके पर एडीएम गौतम ने कहा कि आज के भागदौड़ के समय में किसी भी तरह से खेलों के लिए समय निकालना बेहतरीन गतिविधि है। खेल हमें शारीरिक एवं मानसिक तौर पर फिट रखने का काम करते हैं। हमें किसी भी तरह से अपना समय व काम प्रबंधित करते हुए शारीरिक गतिविधियों के लिए समय निकालना चाहिए।

अतिरिक्त प्रशासनिक अधिकारी नरेंद्र सिंह राठौड़ ने खिलाड़ियों को बधाई दी तथा चूरू जिले के कार्मिकों की खेल परम्पराओं के बारे में एडीएम को अवगत करवाया।

इस दौरान अतिरिक्त प्रशानिक अधिकारी मनीराम, नरेन्द्र सिंह राठौड़, रामस्वरूप, राजेन्द्र चौबे, दुलीचन्द सोनी ने टीम के कप्तान रवि महर्षि, संजय धुआं, संजय शर्मा, संजय सरावग, आशीष पूनिया, अमित, नरेन्द्र, नितेश मुहाल, विक्रम, राजेश पूनिया, मनमोहन, आनंद ने खिलाड़ियों का स्वागत किया। खिलाड़ियों ने उप विजेता की ट्रॉफी जिला कलेक्टर को प्रदान की।
——–
सेठ कन्हैयालाल लोहिया को वर्ष 2004 का स्वामी गोपालदास पुरस्कार 2024

शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान के लिए सेठिया को मरणोपरांत दिया जाएगा यह पुरस्कार, प्रख्यात पत्रकार अरविन्द चोटिया होंगे कार्यक्रम के मुख्य वक्ता

चूरू, 04 जनवरी। सर्वहितकारिणी सभा, पुत्री पाठशाला, कबीर पाठशाला जैसे अनेक प्रकल्पों के संस्थापक और आजादी आंदोलन के सजग प्रहरी, अप्रतिम समाज – योद्धा, जनसेवी, गोभक्त, पर्यावरण प्रेमी, अंचल में जन जागृति के प्रणेता, महान स्वतंत्रता सेनानी स्वामी गोपाल दास की पुण्यस्मृति में प्रारंभ वार्षिक स्वामी गोपाल दास पुरस्कार वर्ष 2024 के लिए शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान देने वाले सेठ कन्हैयालाल लोहिया को (मरणोपरांत) दिया जाएगा।

चयन समिति के संयोजक दलीप सरावग ने बताया कि वरिष्ठ समाजसेवी हनुमान प्रसाद कोठारी की अध्यक्षता में गठित चयन समिति ने सर्वसम्मत फैसला किया कि वर्ष 2024 के लिए यह पुरस्कार स्वामी गोपाल दास के द्वारा जलाई गई शिक्षा की लौ को प्रज्ज्वलित रखने वाले सेठ कन्हैयालाल लोहिया को मरणोपरांत दिया जायेगा। समिति संयोजक सरावग ने बताया कि मंगलवार 9 जनवरी 2024 को प्रातः 11.15 बजे स्वामी गोपाल दास की पुण्यतिथि पर गोपाल दास चौक पर सर्वहितकारिणी भवन के आगे स्थित स्वामी गोपाल दास की मूर्ति परिसर पर आयोजित कार्यक्रम में वरिष्ठ पत्रकार, लेखक और विचारक अरविन्द चोटिया मुख्य वक्ता होंगे। स्वर्गीय कन्हैयालाल लोहिया के परिजनों को यह पुरस्कार प्रदान किया जाएगा।

स्वामी गोपालदास के समकालीन थे कन्हैयालाल लोहिया

15 अगस्त,1884 को चूरू में जन्मे कन्हैयालाल लोहिया कलकत्ता में जूट के व्यवसाय से जुड गए। वरिष्ठ समाजसेवी हनुमान कोठारी ने बताया कि कलकत्ता में जूट का व्यवसाय करते हुए कन्हैयालाल लोहिया जूट की क्वालिटी के श्रेष्ठ पारखी माने जाते थे। जब अंग्रेज जूट फैक्ट्री मालिक ने कहा कि कन्हैयालाल जूट के इस श्रेष्ठ ज्ञान के साथ तुम पढे-लिखे होते तो आज मेरी जगह जूट फैक्ट्री के मालिक होते। तब कन्हैयालाल लोहिया ने शिक्षा का महत्व जाना और प्रण लिया कि अपने चूरू की प्रतिभाओं को कॉलेज के अभाव में शिक्षा से वंचित नहीं रहने दूंगा। आजादी से पूर्व ही अपने जन्मस्थान चूरू में 1945 में ही राजस्थान के श्रेष्ठ कॉलेजों में से एक राजकीय लोहिया कॉलेज चूरू के विशाल व भव्य भवन के साथ छात्रावास भवन बनाकर मरूभूमि की इस शैक्षिक बंजर भूमि को उच्च शिक्षा का उपजाऊ केन्द्र बनाकर लाखों गरीब लोगों का जीवन बना दिया। उल्लेखनीय है कि उस समय लोहिया कॉलेज चूरू में गंगानगर, हनुमानगढ़, झुंझुनूं जिलों के विद्यार्थी उच्च अध्ययन के लिए आते थे।

महान व्यक्तित्वों को मिल चुका यह पुरस्कार

सरावग ने बताया कि पुरस्कार स्वरूप 11000 नगद, शॉल, श्रीफल एवं प्रतीक चिह्व प्रदान किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि भंवर लाल, राकेश कुमार कस्वां के आर्थिक सौजन्य से प्रदत्त यह वार्षिक पुरस्कार इससे पहले वर्ष 2019 के लिए इतिहासकार गोविंद अग्रवाल, वर्ष 2020 के लिए सामाजिक कार्यकर्ता एवं स्वतंत्रता सेनानी चंदनमल बहड, वर्ष 2021 के लिए शिक्षाविद डॉक्टर घासीराम वर्मा, वर्ष 2022 में वंचितों के सामाजिक उत्थान के लिए स्वर्गीय रावतराम आर्य तथा 2023 में स्वतंत्रता सेनानी हनुमान सिंह बुडानिया को प्रदान किया जा चुका है।

 

 

 

shree jain P.G.College
CHHAJER GRAPHIS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *