फिर डराने लगा कोरोना… नया वैरिएंट JN.1 सामने आने के बाद केंद्र ने जारी की एडवाइजरी

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!

 नयी दिल्ली , 19 दिसम्बर। कोरोना के बढ़ते मामलों और नए वैरिएंट के खतरे को देखते हुए केंद्र से सभी राज्यों के अलर्ट पर रहने को कहा है। साथ ही स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने बुधवार को सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों की बैठक बुलाई है। इस बैठक में अतिरिक्त मुख्य प्रधान सचिवों (स्वास्थ्य) और संबंधित केंद्रीय मंत्रालयों एवं विभागों के अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।

L.C.Baid Childrens Hospiatl

क्रिसमस और नए साल से पहले देश में कोविड-19 के मामलों में हालिया बढ़ोतरी के बीच दिल्ली में डॉक्टरों ने लोगों को मास्क पहनने, भीड़भाड़ से बचने और स्वस्थ आहार लेने की सलाह दी है। क्रिसमस और नए साल के करीब आने के साथ, शहर के कुछ अस्पतालों के डॉक्टरों ने देश में कोरोना वायरस के नए वैरिएंट जेएन.1 के पहले मामले का पता चलने का भी हवाला दिया और लोगों से अतिरिक्त सावधानी बरतने को कहा। सरकार के सूत्रों के अनुसार, कुछ राज्यों में कोविड सहित श्वसन संबंधी बीमारी के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया 20 दिसंबर को स्वास्थ्य सुविधाओं और सेवाओं की तैयारियों की समीक्षा करेंगे।

schoks manufacring

भारत में जेएन.1 का पहला मामला आठ दिसंबर को केरल निवासी 79 वर्षीय एक महिला से लिए गए नमूने में पाया गया था जिसे हल्के लक्षण थे। पूर्व में, तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली जिले का एक यात्री सिंगापुर में जेएन.1 वैरिएंट से संक्रमित पाया गया था। सीके बिरला अस्पताल में क्रिटिकल केयर और पल्मोनोलॉजी विभाग के प्रमुख कुलदीप कुमार ग्रोवर ने कहा कि प्रदूषण से उत्पन्न श्वसन समस्याओं से पीड़ित कई मरीजों में लक्षण कोविड जैसे ही होते हैं जिनमें गले में खराश, नाक से पानी बहना और नाक बंद होना जैसे लक्षण शामिल हैं।

मेट्रो अस्पताल के वरिष्ठ सलाहकार डॉक्टर सैबल चक्रवर्ती ने कहा कि क्रिसमस करीब है और नया साल भी दूर नहीं है। उन्होंने कहा कि इन दोनों मौकों पर लोग बड़ी संख्या में इकट्ठा होते हैं और जितना संभव हो सके भीड़भाड़ से बचना चाहिए तथा संतुलित और स्वस्थ आहार भी लेना चाहिए। उन्होंने कहा हम लोगों को मास्क पहनने, मरीजों को इनहेलर का इस्तेमाल करने और जितना संभव हो सके बाहर निकलने से बचने की सलाह दे रहे हैं।

सरकार ने सोमवार को राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से श्वसन संबंधी बीमारी के मामलों में वृद्धि तथा देश में कोरोना वायरस के जेएन.1 स्वरूप का पता चलने के बीच निरंतर निगरानी बनाए रखने को कहा है।

ज्यादा-ज्यादा से संख्या में RT-PCR टेस्ट करें राज्य
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों को ज्यादा-ज्यादा से संख्या में आरटी-पीसीआर परीक्षणों सहित पर्याप्त परीक्षण सुनिश्चित करने की सलाह दी है। वहीं, सरकार ने राज्यों को जीनोम सीक्वेंस के लिए पॉजिटिव नमूने INSACOG प्रयोगशालाओं को भेजने के लिए कहा है।

देश में मिले 335 नए केस
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक, सोमवार यानी 18 दिसम्बर को देश में 335 नए कोविड-19 के मामले सामने आए हैं। इसी के साथ ही देश में एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 1,701 हो गई है।

पांच लाख से ज्यादा लोगों की हुई मौत
स्वास्थ्य मंत्रालय के रविवार सुबह आठ बजे तक के आंकड़ों के मुताबिक, भारत में कोविड-19 के मामले 4 करोड़ 50 लाख 4 हजार 816 हो गए हैं, जबकि देश में 5 लाख 33 हजार 316 लोगों की कोरोना से जान गई है।

GYPSUM POWDER

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *