जयपुर में ED का अधिकारी 15 लाख रु. रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार, ACB ने किया गिरफ्तार

stba

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!

गहलोत के अफसर ने मोदी के अफसर को रिश्वत लेते पकड़ लिया, राजस्थान में ED और ACB आमने-सामने!

L.C.Baid Childrens Hospiatl

जयपुर , 2 नवम्बर। राजस्थान में पिछले दिनों हुए ED के छापों के बाद अब भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने प्रवर्तन निदेशालय के एक अधिकारी को ट्रैप किया है। बताया जा रहा है कि यह अधिकारी नॉर्थ ईस्ट के इंफाल में पोस्टेड है। एसीबी ने ईडी के अधिकारी नवल किशोर मीणा को ट्रैप किया है। एसीबी ने दलाल बाबूलाल को 15 लाख की घूस लेते गिरफ्तार किया है। इंस्पेक्टर के कई ठिकानों पर एसीबी कार्रवाई कर रही है। एसीबी के वरिष्ठ अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की है। एसीबी की कई जगहों पर कार्रवाई जारी है।

mona industries bikaner

नॉर्थ ईस्ट में इंफाल के ईडी आफिसर नवल किशोर मीणा को एसीबी ने कस्टडी में लिया है। बताया जा रहा है कि नवल किशोर के लिए एक बिचौलिया घूस मांग रहा था। घूस लेने वाले को भी एसीबी ने दबोच लिया है।

बता दें कि मणिपुर में एक चिट फंड कंपनी के केस में सैटलमेंट करने और अन्य सुविधा देने के नाम पर पीड़ित से 17 लाख रुपये मांग रहा था। लेकिन उसे पंद्रह लाख रुपये लेते हुए धर लिया गया। उसके लिए काम करने वाले उसके सहयोगी को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। यह ट्रैप अलवर में किया गया है। मामला बड़ा होने के चलते एसीबी के अन्य अधिकारी भी अलवर के लिए रवाना हो गए हैं।

एसीबी अफसरों ने बताया कि मणिपुर में पिछले दिनों कुछ लोगों के खिलाफ चिट फंड कंपनी चलाने और ठगी का केस दर्ज हुआ था। इस केस में पीड़ित से ईडी वाले रुपये मांग रहे थे। पीड़ित ने पुलिस एसीबी अफसरों को बताया कि ईडी अधिकारी नवल किशोर मीणा और उनके सहायक कर्मचारी बाबूलाल मीणा उनसे रुपये मांग रहे थे। चिटफंड कंपनी के केस में उनकी सम्पत्ति अटैच नहीं करने की एवज में ये रुपये मांगे जा रहे थे।

एसीबी ने ईडी के अधिकारी नवल किशोर मीणा को ट्रैप करने की FIR दर्ज कर ली है

साथ ही केस को भी रफा दफा करने की बात की जा रही थी। इस मामले में मणिपुर के इंफाल में लगे प्रवर्तन अधिकारी नवल किशोर मीणा रुपये मांग रहे थे। नवल किशोर मीणा जयपुर के बस्सी के और बाबूलाल मीणा भी बस्सी के ही रहने वाले हैं। बाबूलाल ही इस केस में मीडियेटर का काम कर रहे थे। वे फिलहाल अलवर के खैरथल में कनिष्ट सहायक कार्यालय, उप पंजीयक के पद पर तैनात हैं।

एसीबी ने किया ट्रैप
इस बीच एसीबी के पास पीड़ित पहुंचा और उसने ईडी अफसर की डिमांड के बारे में जानकारी दी। एसीबी को बताया गया कि किस तरह से मणिपुर के एक केस के बदले रिश्वत मांगी जा रही है। एसीबी अफसरों ने ट्रैप की तैयारी की और आज अलवर में उसे ट्रैप कर लिया गया।

बाबूलाल मीणा ने पीड़ित को रुपए देने के लिए अलवर बुलाया था। नवल किशोर मीणा खुद भी वहां पहुंच गया था। दोनों को रुपए लेते हुए ऐसीबी ने ट्रैप कर लिया। बाबूलाल मीणा अलवर जिले के खैरथल कस्बे में कनिष्ठ सहायक कार्यालय, उप पंजीयक के पद पर तैनात हैं। एसीबी के अधिकारी मौके पर हैं।

shree jain P.G.College
CHHAJER GRAPHIS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *