महिला जज ने किया सुसाइड, बैडरूम पंखे से लटका मिला शव

stba

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!

बदायूं ,3 फ़रवरी। उत्तर प्रदेश के बदायूं में शनिवार की सुबह हड़कंप मच गया, जब महिला सिविल जज अपने आवास पर मृत पाई गईं। 28 साल की ज्योत्सना राय सिविल जज जूनियर डिविजन के पद पर तैनात थीं। उनका शव कमरे में फंदे से लटकता पाया गया है। हालांकि घटना के कारण का नहीं चल सका पता। भारी पुलिस बल के साथ आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। जिला जज भी मौके पर पहुंचे हैं।

L.C.Baid Childrens Hospiatl

बदायूं की कोतवाली सदर क्षेत्र के न्यायाधीश आवास पर अपनेकमरे मेंमहिला जज ज्योत्सना राय पुत्री अशोक कुमार राय निवासी मऊ नेशनिवार को बेडरूम मेंफांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पहुंची पुलिस ने दरवाजा तोड़कर देखा तो उनका शव पंखेसेलटका हुआ था।

mona industries bikaner

एसएसपी आलोक प्रियदर्शी ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि महिला जज कोर्ट नहीं पहुंचीं और फिर साथी जज ने पुलिस को फोन कर सूचना दी। मौके पर पहुंचने पर दरवाजा तोड़ा गया तो कमरे में पंखे से लटकती हुई लाश बरामद हुई। घटनास्थल से कुछ डॉक्युमेंट्स मिले हैं, जिसकी पड़ताल की जा रही है।

सिविल जज ने संदिग्ध हालत में अपने सरकारी आवास में आत्महत्या की। हालांकि घटना के कारण का पता नहीं चल सका है। भारी पुलिस बल के साथ आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। जिला जज भी मौके पर पहुंचे हैं।

सूचना मिलते ही डीएम मनोज कुमार व एसएसपी आलोक प्रियदर्शी मौके पर पहुंच गए और घटनास्थल का निरीक्षण किया। एसएससी नेफोरेंसिक टीम को बुलाया। फोरेंसिक टीम नेघटनास्थल के फॉरेंसिक नमूने लिए। पुलिस ने उनके शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजा है और मामलेकी जांच शुरू कर दी है। पुलिस महिला जज द्बारा आत्महत्या करने का कारण पता लगाने में लगी हुई है।

अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी ने बताया कि बदायूं की जज कॉलोनी परिसर में प्रथम मंजिल पर रहने वाली दीवानी मामलों की न्यायाधीश (कनिष्ठ) ज्योत्सना राय (27) ने अपने शयन कक्ष में पंखे से फांसी का फंदा लगा कर आत्महत्या कर ली ।

उन्होंने बताया कि शनिवार पूर्वाह्न 10 बजे तक राय जब अदालत नहीं पहुंचीं , तो उनके साथी न्यायाधीशों ने उन्हें फोन किया लेकिन संपर्क नहीं हो पाने पर वे उनके आवास गए और उन्होंने पाया कि राय का शयनकक्ष अंदर से बंद था ।

प्रियदर्शी ने बताया कि मौके पर पहुंची पुलिस ने शयनकक्ष का दरवाजा तोड़ा तो राय का शव पंखे से लटका मिला। उन्होंने बताया कि मूलरूप से जनपद मऊ की रहने वाली राय बदायूं में दीवानी मामलों की न्यायाधीश (कनि ष्ठ) के पद पर 29 अप्रैल, 2023 से तैनात थीं । इससे पूर्व वह अयोध्या में न्यायिक मजिस्ट्रेट के पद पर कार्यरत थीं ।

उन्होंने बताया कि राय के आवास से उनके लिखे एक सुसाइड नोट सहित कुछ दस्ता वेज बरामद हुए हैं, जो इस मा मलेकी गुत्थी को सुलझा ने में अहम साबित हो सकते हैं। प्रियदर्शी ने बताया कि प्रथम दृष्टया यह मामला मानसिक तनाव का प्रतीत हो रहा है। उन्होंने बताया कि महिला न्यायाधीश के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है और उनके परिजनों को इस संबंध में जानकारी दे दी गई है।

shree jain P.G.Collegeथार एक्सप्रेसCHHAJER GRAPHIS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *