निरंतर चल रहे रोटरी नेत्र ज्योति कलश अभियान में 195 स्कूली बच्चो में से 50 बच्चो में पाया गया नेत्र दोष

stba

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!


बच्चो को दी जा रही ज्यादा सुख सुविधा बन रही बच्चो के भविष्य की दुविधा


बीकानेर , 25 अक्टूबर।
रोटरी क्लब ऑफ बीकानेर मरुधरा द्वारा निरंतर रूप से प्रारंभ रोटरी नेत्र ज्योति कलश अभियान के तहत आज पुगल रोड स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल में अध्ययनरत 195 बच्चो की निशुल्क जांच की गई। जिसमे से 50 बच्चो में नेत्र दोष पाया गया।

L.C.Baid Childrens Hospiatl

शिविर संयोजक रोटे. आशीष कोठारी ने जानकारी देते हुए बताया कि क्लब अध्यक्ष अनीश अहमद एवम स्कूल प्रिंसिपल रितु मैडम के नेतृत्व में आयोजित शिविर में रोटरी नानेश नेत्र चिकित्सालय द्वारा प्रदत्त आत्धुनिक नेत्र जांच की विशेष मशीन रिफ्लेक्टोमीटर द्वारा बच्चो की जांच की गई। जिसमे इतनी तादाद में बच्चों में नेत्र दोष आना बेहद चिंता जनक परिणाम है।

mona industries bikaner

डिस्ट्रिक्ट सहायक प्रांतपाल रोटे. राहुल महेश्वरी भी आज के शिविर में उपस्थित थे, राहुल महेश्वरी ने बताया की इतनी छोटी उम्र में बच्चो के रेटीना पर प्रभाव एक चिंता जनक परिणाम है और यह माता पिता परिवार द्वारा बच्चो को ज्यादा से ज्यादा सुख सुविधा उपलब्ध करवाने का परिणाम है जो की बच्चो के आने वाले भविष्य हेतु दुखद है।

क्लब अध्यक्ष रोटे. अनीश अहमद व रोटे. अनिल भंडारी ने बताया नेत्र दोष पाए गए बच्चो के इलाज हेतु स्कूल प्रशासन द्वारा माता पिता को सूचित किया गया है ताकि रोटरी मरुधरा स्कूल प्रशासन के साथ मिलकर बच्चो का निशुल्क इलाज करवा सके।

चिकित्सक अनंत शर्मा ने बताया की आज की आधुनिकता में माता पिता द्वारा अपने समय को अपने बच्चों को नही देकर उन्हें मोबाइल दे देते हैं एवम बच्चो के निरंतर मोबाइल देखने से उनकी आंखों की रेटीना पर असर पड़ता है, फलस्वरूप उनमें नेत्र दोष उत्पन होता है। चूंकि बच्चे छोटे होते हैं तो वे अपनी इस समस्या को बता भी नहीं पाते हैं।

शिविर में सहायक पूर्व अध्यक्ष रोटे. एड. पुनीत हर्ष, सचिव रोटे. गोविंद कल्याणी, रोटे. कैलाश झांब के साथ स्कूल स्टाफ में
श्यामा मैडम, नौरीन खान, सुरेखा बाहेती, अमिता प्रसाद, ऑप्टिनिशियन अल्ताफ हुसैन ने अपनी सेवाएं दी। स्कूल प्रशासन ने रोटरी को एक बेहतरीन सेवा संस्था की उपाधि देते हुए आभार व्यक्त किया।

थार एक्सप्रेस
CHHAJER GRAPHIS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *