मां का दिशाबोध – बेटी की उड़ान कोयंबतूर

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!

कोयंबटूर , 21 दिसम्बर। अखिल भारतीय तेरापंथ महिला मंडल के निर्देशानुसार कोयंबटूर तेरापंथ महिला मंडल ने कार्यशाला का आयोजन दो चरणों में 17 -12 -23 रविवार को तेरापंथ भवन में किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत नमस्कार महामंत्र के द्वारा हुई। मंगलाचरण मां बेटी की जोड़ी दीपिका व भावना बोथरा ने किया। अध्यक्ष मंजू सेठिया ने सबका स्वागत व अभिनंदन किया और जानकारी दी कि आज के प्रोग्राम में 15 मां बेटी की जोड़ी ने भाग लिया है। मधुर स्वर लहरी के द्वारा रेखा मरोठी ने बहुत ही सुंदर मां बेटी पर गीत गया।

L.C.Baid Childrens Hospiatl

प्रथम चरण में ध्यानार्थ बिंदु:- क्या कहता है मां बेटी का रिश्ता, आज के परिवेश में कैसे बदल रही है रिश्ते की बुनियाद वह भावना, उम्र के पड़ाव के साथ विचारों में परिवर्तन कैसे करें इन बिंदुओं पर मुक्ता नखत व रुचिका बैद ने टॉक शॉ के माध्यम से उनकी भावनाओं को जाना। और बताया की मां अपनी बेटी को सिखाएं वह सबसे बेहतर है उसके लिए कुछ भी नामुमकिन नहीं है रिश्ते में गहरापन व पारदर्शिता होनी चाहिए। यह रिश्ता संतुलित दया देखभाल प्यार के साथ सम्मान जनक होना चाहिए। क्वेश्चन भी पूछे गए इसमें प्रेरणादायी उत्तर देने वाली तीन जोड़ियां को पुरस्कृत किया गया।

schoks manufacring

दूसरे चरण में :- कार्यक्रम को रोचक बनाने हेतु जोड़ियां का सेल्फी कॉन्टेस्ट वह गेम सुनिता भट्टर ने बढ़िया खेलाया। गेम में प्रथम अनामिका घिया , द्वितीय प्रियंका बुरड़ रही।

सेल्फी कॉन्टेस्ट में प्रथम अनामिका घिया, द्वितीय गुण बोहरा, तृतीय प्रियंका बुरड़, व कंसोलेशन में अनिता नाहटा रही। इन सब को पुरस्कृत किया गया। आभार ज्ञापन सह मंत्री मधु चौरड़िया ने किया। कार्यक्रम का कुशल संचालन रुचिका बैद ने किया। 15 जोड़ियों के अलावा बहनों की अच्छी उपस्थिति रही।

GYPSUM POWDER

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *