राजस्थान के बीकानेर सहित 5 शहरों में बारिश का अलर्ट

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!

  • आज 16 घंटे की रात, साल का सबसे छोटा दिन
  • न्यूनतम तापमान 2 डिग्री गिरा

जयपुर , 22 दिसम्बर। राजस्थान के मौसम में आज बदलाव हुआ है। जैसलमेर, जोधपुर, बाड़मेर, जालोर, पाली में सुबह से हल्के बादल छाए हैं। इन क्षेत्रों में तापमान में 2 डिग्री सेल्सियस तक बढ़ोतरी हुई है। इससे लोगों को गलन भरी सर्दी से थोड़ी राहत मिली। मौसम विभाग ने आज जोधपुर, बीकानेर के कुछ इलाकों में हल्की बूंदाबांदी होने की भी संभावना जताई है। मौसम का ये बदलाव 23 दिसंबर को भी बना रहने की संभावना है।

L.C.Baid Childrens Hospiatl

राज्य में आज ठिठुरन भरी सर्दी से थोड़ी राहत रही। बीकानेर, जैसलमेर, बाड़मेर समेत कई शहरों में आज मिनिमम तापमान में 2 डिग्री सेल्सियस तक की बढ़ोतरी हुई है। बीकानेर में गुरुवार जो तापमान 8.1 डिग्री सेल्सियस पर था। वो आज बढ़कर 10 पर आ गया। यही स्थिति जैसलमेर में रही। हालांकि, कश्मीर में आज से चिल्लई कलां (तेज सर्दी वाले दिन) की शुरुआत हो रही है। जिसका असर राजस्थान सहित कई इलाकों में दिख सकता है।

schoks manufacring

इस कारण से बढ़ा तापमान

बाड़मेर में भी आज न्यूनतम तापमान में करीब 2 डिग्री सेल्सियस तक का इजाफा हुआ। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के कारण उत्तर भारत से आ रही बफीर्ली हवाओं के रूकने और अरब सागर से गुजरात तक बनी ट्रफ लाइन के कारण बादलों के समूह के आने से मौसम में ये बदलाव देखने को मिला है।

माउंट आबू में सबसे कम तापमान
राज्य में आज न्यूनतम तापमान सबसे कम माउंट आबू में दर्ज हुआ है। यहां आज का तापमान एक डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। सीकर के फतेहपुर में भी आज मिनिमम तापमान 1.5 डिग्री सेल्सियस पर दर्ज हुआ। इधर चूरू में लगातार चौथे दिन तापमान 5 डिग्री सेल्सियस से नीचे दर्ज हुआ। चूरू के साथ गंगानगर, जयपुर, उदयपुर, कोटा और अजमेर में भी न्यूनतम तापमान में मामूली उतार-चढ़ाव रहा।

आज सबसे बड़ी रात
आज सबसे बड़ी रात (22 दिसंबर) और सबसे छोटा दिन रहेगा। रात करीब 16 घंटे की रहेगी, जबकि दिन करीब 8 घंटे का। इसी के साथ कश्मीर में आज से चिल्लई कलां का दौर भी शुरू हो गया है। इस दौर में कश्मीर, लद्दाख समेत ऊंचे पहाड़ों पर सर्दी अपने चरम पर पहुंच जाती है। यह कड़ी सर्दी के करीब 40 दिन होते हैं। जो जनवरी के आखिर तक रहते हैं। पहाड़ों से सर्द हवाएं मैदानी राज्यों में ज्यादा प्रभाव दिखाने लगती है, जिससे हरियाणा, दिल्ली, पंजाब, राजस्थान उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश समेत कई राज्यों में तापमान गिरने लगते है।

GYPSUM POWDER

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *