रेवंत रेड्डी ने तेलंगाना के मुख्यमंत्री का पदभार संभालते ही पहली कैबिनेट बैठक में क्या किया ?

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!

हैदराबाद, 7 दिसम्बर । तेलंगाना के नए मुख्यमंत्री अनुमुला रेवंत रेड्डी ने गुरुवार को राज्य सचिवालय में कार्यभार संभाला। एल.बी. स्टेडियम में शपथ लेने के बाद वह मंत्रियों के साथ सचिवालय पहुंचे और छठी मंजिल पर स्थित अपने कार्यालय में कार्यभार संभाला।

L.C.Baid Childrens Hospiatl

उन्होंने अपनी पत्‍नी के साथ पुजारियों के एक समूह द्वारा वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पूजा की। जब वह मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठे तो पुरोहितों ने उन्हें आशीर्वाद दिया। बाद में उन्होंने मुख्य सचिव शांति कुमारी और अन्य शीर्ष अधिकारियों द्वारा लाई गई कुछ फाइलों पर हस्ताक्षर किए।

schoks manufacring

रेवंत रेड्डी के कार्यभार संभालने के बाद राज्य मंत्रिमंडल की पहली बैठक सचिवालय में शुरू हुई।

बैठक में उपमुख्यमंत्री मल्लू भट्टी विक्रमार्क और 11 अन्य मंत्री शामिल हुए।

इससे पहले, अधिकारियों और सचिवालय कर्मचारियों ने रेवंत रेड्डी का उनके आगमन पर गर्मजोशी से स्वागत किया। कांग्रेस के सत्ता में आने के बाद रेवंत रेड्डी ने घोषणा की थी कि सचिवालय के दरवाजे लोगों के लिए खुले रहेंगे।

अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित और अद्वितीय डिजाइन से निर्मित नए सचिवालय परिसर का उद्घाटन 30 अप्रैल को किया गया था। तत्कालीन मुख्यमंत्री के.चंद्रशेखर राव ने छठी मंजिल पर अपने कक्ष में एक कुर्सी पर बैठकर परिसर का उद्घाटन किया था और कुछ फाइलों पर हस्ताक्षर कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री, मंत्रियों, मुख्य सचिव और अन्य सभी सचिवों और विभागों के प्रमुखों के कार्यालयों वाले एकीकृत परिसर का नाम डॉ. बी.आर. अंबेडकर के नाम पर रखा गया है। 600 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से निर्मित सचिवालय छह मंजिली इमारत है। सात लाख वर्ग फुट में बनी यह इमारत सभी आधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित है। हालांकि, सचिवालय परिसर में आमजन का प्रवेश प्रतिबंधित है। यहां तक कि मीडियाकर्मियों को भी इस परिसर में जाने की इजाजत नहीं है।

GYPSUM POWDER

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *