बीकानेर भारतमाला सड़क पर ट्रक में घुसी स्कॉर्पियो, डॉक्टर दंपती सहित 2 परिवार खत्म 5 की मौत

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!

Big Accident: नीद की एक झपकी और पूरे परिवार की मौत,बीस लाख की पावरफुल कार पूरी उधड़ गई, आपस में चिपक गए शव

L.C.Baid Childrens Hospiatl

नोखा , 16 फ़रवरी। Big accident in Rajasthan: राजस्थान के बीकानेर जिले से बड़ी खबर है। पांच लोगों की एक पल ही में मौत हो गई। जिस गाड़ी में वे लोग सवार थे उस गाड़ी की हालत ऐसी हो गई जैसे लोहे का स्क्रैप भर हो…। हादसा इतना भयंकर था कि र्स्कोपियो की छत उधड़ती हुई पीछे डिक्की तक जा पहुंची। पांच लोग उसमें सवार थे एक ही पल में सभी की जान चली गई। लाशें ही आपस में चिपक गई। इस दर्दनाक हादसे के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद शवों को अलग कर मुर्दाघर में रखवाया। गुजरात निवासी परिजनों को सूचना दे दी गई है। ये लोग गुजरात की ओर जा रहे थे। राजस्थान में किस काम से आए थे इस बारे में पूरी जानकारी नहीं मिल सकी है। हादसा आज तड़के का बताया जा रहा है, जो रासीसर गांव के नजदीक भारत माला रोड पर हुआ।

schoks manufacring

बीकानेर जिले की नोखा पुलिस ने बताया कि सभी लोग गंगानगर से होते हुए गुजरात की ओर जा रहे थे। र्स्कोपियो भारत माला रोड से होकर गुजर रही थी और बेहद ही तेज रफ्तार में थी। इसी दौरान अचानक चालक को संभवतः नींद की झपकी आई और गाड़ी आगे चल रहे ट्रक में जा घुसी। उसे ट्रक से अलग करने के लिए क्रेन बुलानी पड़ी। ट्रक चालक ने ही पुलिस को जानकारी दी थी। पुलिस ने बताया कि टक्कर इतनी तेज थी कि स्कोर्पियो कबाड़ में बदल गई।

हादसे के बाद पुलिस अधीक्षक तेजस्वनी गौतम और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ. प्यारेलाल शिवरान मौके पर पहुंचे। गुजरात के ये दोनों परिवार श्रीगंगानगर से एक विवाह समारोह में हिस्सा लेकर लौट रहे थे।

उसमें सवार गुजरात के डॉ, प्रतीक, उनकी पत्नी हेतल, गुजरात में ही कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर डॉ, पूजा, उनके पति के साथ ही प्रतीक और हेतल की 18 महीने की बेटी की मौके पर ही मौत हो गई। नोखा पुलिस ने बताया कि हादसा भयंकर था। क्रेन की मदद से कबाड़ बन चुकी गाड़ी को मौके से हटाया गया है। पांचों के शवों को मुर्दाघर में रखवाया गया है। परिवार के सदस्यों को मौत की सूचना दे दी गई है। वे लोग गुजरात से रवाना होकर बीकानेर आ रहे हैं। पुलिस ने बताया कि भारत माला रोड पर ज्यादा यातायात नहीं रहता, इस कारण हादसे की जानकारी कुछ देरी से पुलिस को लगी। हांलाकि सभी की मौत हो चुकी थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *