बीकानेर में फिर तेज गर्मी का दौर:अधिकतम तापमान 43 डिग्री सेल्सियस के आसपास पहुंचा, उमस से हाल बेहाल

stba

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!

बीकानेर , 10 जुलाई। प्रदेशभर में जहां मानसून के कारण सड़कों पर पानी जमा हो रहा है, वहीं बीकानेर में तापमान 42.7 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। न सिर्फ अधिकतम बल्कि न्यूनतम तापमान भी 31 डिग्री सेल्सियस से अधिक है। ऐसे में न दिन में चैन मिल पा रहा है और न रात में आराम। आने वाले कुछ दिनों तक बीकानेर में बारिश की उम्मीद भी नहीं है। ऐसी हालत में बिजली का गुल हो जाना कोड में खाज का काम कर रहा है।

L.C.Baid Childrens Hospiatl

बीकानेर में तीन जुलाई को मानसून ने एंट्री की लेकिन बारिश के नाम पर कुछ नहीं हुआ। महज दो बार बारिश हुई, उसमें भी गर्मी से कोई खास राहत नहीं मिल सकी। पारा एक बार 36 डिग्री सेल्सियस तक भी पहुंचा लेकिन एक बार फिर से तापमान 43 डिग्री सेल्सियस के आसपास पहुंच गया है। बुधवार दोपहर ऐसे हालात हुए कि घर से बाहर निकलने की हिम्मत नहीं हो रही थी। लोग एसी और कूलर के आगे से हटने के लिए तैयार नहीं है।

mona industries bikaner

स्कूली बच्चों की हालत खराब

एक जुलाई से स्कूल खुल गए लेकिन तापमान में कम नहीं हो रहा। सामान्य दर्जे के स्कूल में एक ही कमरे में चालीस से ज्यादा स्टूडेंट्स को बिठाया जा रहा है। ऐसे में तेज गर्मी से बैठना मुश्किल हो रहा है। राज्य में अकेले बीकानेर व पश्चिमी राजस्थान के कुछ हिस्से में ही इतनी तेज गर्मी पड़ रही है। ऐसे में शिक्षा विभाग भी इसे गंभीरता से नहीं ले रहा है। सुबह स्कूल आते वक्त तो मौसम ठीक होता है लेकिन दोपहर में एक बजे बाद सड़क पर निकलते बच्चों को परेशानी होती है।

 

shree jain P.G.CollegeCHHAJER GRAPHISथार एक्सप्रेस

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *