भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में महंगाई, महिला सशक्तिकरण, रोजगार, ओपीएस, चिरंजीवी योजना जैसे मुद्दों को लेकर अपना रुख स्पष्ट नहीं किया है- लोकेश शर्मा

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!


जयपुर , 17 नवम्बर।
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के विशेषाधिकारी और प्रदेश कांग्रेस सेंट्रल वॉर रूम के को-चेयरमैन लोकेश शर्मा ने भाजपा के संकल्प पत्र को झूठ का पुलिंदा बताया है। लोकेश शर्मा ने बयान जारी करते हुए कहा कि भाजपा का संकल्प पत्र देखकर ऐसा प्रतीत हो रहा है कि पार्टी ने आगामी विधानसभा चुनाव में अपनी सुनिश्चित हार को देखते हुए महज रस्म अदायगी से ज्यादा कुछ नहीं किया।
भाजपा आज देश में अपना अस्तित्व खोती जा रही है। भाजपा का एक भी संकल्प भरोसे के काबिल नहीं है। लोकेश शर्मा ने अपने बयान में कहा कि भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में महंगाई, महिला सशक्तिकरण, रोजगार, ओपीएस, चिरंजीवी योजना जैसे मुद्दों को लेकर अपना रुख स्पष्ट नहीं किया है।

L.C.Baid Childrens Hospiatl

भाजपा का संकल्प पत्र देखकर ऐसा प्रतीत होता है कि पार्टी राजस्थान में ओपीएस, चिरंजीवी जैसी जनहितकारी योजनाओं को बंद करने की मंशा रखती है। लोकेश शर्मा ने कहा कि जब राजस्थान सरकार ने 500 रुपए में गैस सिलेंडर देना शुरू किया था, तब भाजपा इसे महज रेवड़ी बता रही थी, आज कांग्रेस सरकार की ओर से दिए जा रहे राहतों के अंबार के चलते भाजपा के पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई है। ऐसे में उन्हें माताओं, बहनों और सिलेंडर सब्सिडी देने की याद आ गई।
लोकेश शर्मा ने यह भी कहा कि भाजपा ने पिछले 5 साल में ईआरसीपी को लेकर एक भी कदम आगे नहीं बढ़ाया। अब जनता की नाराजगी और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के कड़े रुख के चलते भाजपा ईआरसीपी को केंद्र सरकार के साथ मिलकर पूरा करने की बात कह रही है।

schoks manufacring

लोकेश शर्मा ने बयान जारी कर कहा कि भाजपा का घोषणा पत्र राजस्थान की जनता की नजरों में झूठ के पुलिंदे और रस्म अदायगी से ज्यादा कुछ नहीं है। भाजपा के आज तक के संकल्पों का हाल जनता पहले ही देख चुकी है। चुनी हुई सरकारों को गिराने की साजिश, सत्ता हथियाने की साम-दाम-दंड-भेद की राजनीति, विपक्ष के खिलाफ दबाव की रणनीति भाजपा का एकमात्र ध्येय है। जनता से झूठे वादे करना ही भाजपा का असली संकल्प है। लोकेश शर्मा ने कहा कि भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में मुख्यमंत्री फ्री स्कूटी योजना, हर थाने में महिला डेस्क, एंटी रोमियो स्क्वॉड, केजी से पीजी तक बालिका शिक्षा फ्री, पेपर लीक पर एसआईटी का गठन जैसी बातें कहीं, जबकि राजस्थान में पहले से ही मेधावी छात्राओं को फ्री स्कूटी दी जा रही है। वहीं थानों में पहले से महिला डेस्क स्थापित की जा चुकी हैं।
राजस्थान में कांग्रेस सरकार पहले ही महिलाओं को सुरक्षा देने के लिए निर्भया स्क्वॉड संचालित कर रही है। इसी तरह केजी से पीजी तक फ्री शिक्षा भी राजस्थान में पहले ही कांग्रेस सरकार में फ्री दी जा रही है।
लोकेश शर्मा ने कहा कि भाजपा ने महज कांग्रेस सरकार की जनहितकारी योजनाओं को अलग नाम देकर जनता के सामने रखने का काम किया है, जबकि राजस्थान की जनता पिछले 5 सालों से इनका लाभ उठा रही है। लोकेश शर्मा ने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जिन 7 गारंटियों को लागू करने की बात कही है, वे इस तरह की कोई भी योजना आम जनता के हित में नहीं बता पाए। लोकेश शर्मा ने कहा कि भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में ऐसा कोई वादा नहीं किया जो विशेष रूप से राजस्थान की जनता को लेकर किया गया हो।

भाजपा ने इस संकल्प पत्र के नाम पर केवल केंद्र सरकार की योजनाओं को वापस नाम परिवर्तित कर आम जनता के सामने रखने का काम किया है। भाजपा ने ऐसा करके केवल जनता को ठगने का काम किया है। लोकेश शर्मा ने कहा कि भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में गिग वर्कर्स कल्याण की बात कही, जबकि राजस्थान में इसके लिए पहले ही कानून बनाया जा चुका है। राजस्थान की मौजूदा कांग्रेस सरकार ओबीसी, अल्पसंख्यक, दिव्यांग सहित अन्य वर्गों के कल्याण के लिए ढेरों कदम पहले ही उठा चुकी है।

भाजपा ने किसानों के हित में केवल केंद्र सरकार की योजनाओं को भी लागू करने की बात कही। भाजपा ने अपने संकल्प पत्र में ढाई लाख रोजगार का वादा किया, जबकि इससे ज्यादा नौकरियां तो मौजूदा कांग्रेस सरकार के समय युवाओं को दी जा चुकी हैं। भाजपा का घोषणा पत्र देखकर ऐसा प्रतीत होता है कि पार्टी ने पहले ही अपनी हार स्वीकार कर ली है।

GYPSUM POWDER

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *