कांग्रेस के बड़े नेताओं के यहां ईडी के छापे मचा हड़कम्प

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!

टिड्‌डी दल जैसे ईडी का उपयोग -गहलोत

L.C.Baid Childrens Hospiatl

डरने की जरूरत नहीं -डोटासरा

schoks manufacring

जयपुर , 26 अक्टूबर। राजस्थान में पेपर लीक मामले में (Paper Leak Case in Rajasthan) राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष (President of Rajasthan Pradesh Congress Committee) गोविन्द सिंह डोटासरा (Govind Singh Dotasara) के जयपुर और सीकर में (In Jaipur and Sikar) निजी आवास पर (On Private Residence) ईडी की टीम (ED Team) छापेमारी के बाद (After Raid) रवाना हो गई (Leaved) ।

राजस्थान में हुए पेपर लीक मामले को लेकर प्रवर्तन निदेशालय (ED) की टीम ने आज सुबह प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा के घर छापेमारी की है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत को भी ED ने फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट एक्ट (FEMA) केस में समन भेजकर पूछताछ के लिए बुलाया है।

ED ने सीकर स्थित डोटासरा के निजी आवास पर उनसे करीब 11 घंटे तक पूछताछ की। ED की टीम डोटासरा के जयपुर के सिविल लाइंस में सरकारी आवास पर भी पहुंची थी। सूत्रों के मुताबिक जयपुर में डोटासरा के सिविल लाइंस आवास पर कार्रवाई पूरी हो गई। अब जयपुर में 2 और सीकर में 2 जगह पर ED की रेड चल रही है। छापों के बाद डोटासरा ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर कहा- ‘सत्यमेव जयते’।

सूरज की पहली किरण के साथ ही आज जयपुर, दौसा और सीकर जिले में ईडी ने छापेमारी शुरू कर दी । चालीस से ज्यादा अफसर और कार्मिक, लोकल पुलिस के साथ मिलकर कांग्रेसी नेताओं के यहां छापे मार रहे हैं । उनको गिरफ्तार किया जाएगा या नहीं इस बारे में फिलहाल कोई अपडेट जारी नहीं किया गया है। ईडी की इस रेड के बाद हडकंप मचा हुआ है। बताया जा रहा है कि पेपर लीक केस में इन नेताओं के यहां जांच पड़ताल करने ईडी पहुंची है।

कांग्रेस के टिकट पर महुवा से चुनाव लड़ रहे ओमप्रकाश हुड़ला के दौसा आवास समेत.7 ठिकाना पर छापे पड़े है।मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत को ईडी ने समन भेजा है। वहीं सीएम अशोक गहलोत ने ट्ववीट करके कहा है कि अब आप समझ सकते हैं, जो मैं कहता आ रहा हूँ कि राजस्थान के अंदर ईडी की रेड रोज़ इसलिए होती है, क्योंकि भाजपा ये नहीं चाहती कि राजस्थान में महिलाओं को, किसानों को, गरीबों को कांग्रेस द्वारा दी जा रही गारंटियों का लाभ मिल सके।

दोनो कांग्रेस के दिग्गज नेता

गोविंद सिंह डोटासरा, राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष हैं। सीकर जिले के रहने वाले हैं और सीकर से ही फिर से चुनाव लड़ रहे हैं। उनको पहली ही लिस्ट में पार्टी ने टिकट दे दिया था और काफी हद तक यह अनुमान है कि उनकी जीत लगभग तय है। उनका जयपुर मे भी सरकारी आवास है और यहां पर भी इडी की टीमें पहंची हैं। दोनो ही जिलों में लोकल पुलिस के साथ ही ईडी की टीमें पहुंची हैं।

दौसा में कांग्रेस उम्मीदवार हुडला के घर भी छापे

दूसरे नेता ओम प्रकाश हुडला हैं। हुडला पिछली बार निर्दलीय लड़े थे और अच्छे वोटों से जीते थे। इस बार इसी कारण कांग्रेस ने उनको टिकट दे दिया और अब वे उसी सीट से उम्मीदवार है जहां से अक्सर चुनाव लड़ते हैं। ईडी ने जब उनके महुवा स्थित आवास पर छापा मारा तो उस समय वे हमेशा की तरह फेसबुक लाइव आकर पूजा पाठ कर रहे थे। ईडी की टीम पूजा पाठ के दौरान ही पहुंच गई और बाद में फेसबुक लाइव बंद कर दिया गया। महुवा में उनके ऑफिस और घर का नाम राम कुटीर है और वहां पर पैट्रोल पंप भी नजदीक ही है। हुडला के पिछले दिनों टॉयलेट साफ करने वाले, जूते पॉलिश करने वाले, सब्जी बेचने वाले कई सारे वीडियो सामने आए थे। वे अक्सर चर्चा में बने रहते हैं।

सवाल मेरे बेटे का नहीं, एजेंसियों की साख का है : गहलोत

अशोक गहलोत ने छापों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि आज जो स्थिति है वह चिंताजनक है। सवाल मेरे बेटे और पीसीसी चीफ के छापों का नहीं है, सवाल इन एजेंसियों की साख का है। इन एजेंसियों ने पूरे देश में आतंक मचा रखा है। प्रवर्तन निदेशालय द्वारा राजस्थान कांग्रेस प्रमुख गोविंद सिंह डोटासरा के जयपुर स्थित आवास पर छापेमारी और वैभव गहलोत को ईडी के समन पर उक्त टिप्पणी करते हुए गहलोत ने कहा, “हमारी एजेंसी जो है उनकी विश्वसनीयता होती है और वह रहेगी, लेकिन आज उल्टा हो रहा है। डोटासरा जी के घर पर हमने कल दो घोषणाएं की इसके बाद आज ही दो जगहों पर छापे पड़ गए। आपने नोटिस नहीं दिया, कोई शिकायत नहीं और छापे पड़ गए है।

वैभव गहलोत को ईडी के समन पर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा, “वैभव गहलोत का जहां तक मुझे अंदाज़ा है यह टैक्सी की एक कंपनी है… उसका मामला है। अब इस कंपनी में किसने किसको शेयर बेचे उसका जवाब कंपनी दे रही है। वे टारगेट तो मुझे कर रहे हैं… राजस्थान के अंदर उनका टारगेट है, हम कामयाब होकर दिखाएंगे। इन्होंने आज जो किया उसका जवाब जनता देगी।”

रंधावा बोले- डोटासरा शेर हैं, डरेंगे नहीं
सीकर में डोटासरा के घर के बाहर शाम करीब 7 बजे प्रदेश कांग्रेस प्रभारी सुखजिंदर सिंह रंधावा ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा- डोटासरा शेर हैं, डरेंगे नहीं। रंधावा ने कहा- दो गारंटी पर दो रेड। कल हम पांच गारंटी देंगे। एक किसान के बेटे को परेशान किया जा रहा है। झांसी की रानी की तरह हम इंदिरा गांधी के विचारों के साथ लड़ें। 2023 ही नहीं, 2024 में भी बीजेपी को मात देंगे। आज की ईडी कार्रवाई बीजेपी को सफाए की तरफ भेजेगी।

डोटासरा के रिश्तेदारों के घर भी पहुंची ED

ED की टीम डोटासरा सहित उनके रिश्तेदारों के घर भी पहुंची है। पेपर लीक को लेकर आज ED ने पहली बार डोटासरा के घर पर छापेमारी की है। दिल्ली और जयपुर की ED टीम के साथ केंद्रीय सुरक्षा बल के अधिकारी भी मौजूद हैं। डोटासरा सीकर जिले के लक्ष्मणगढ़ विधानसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी भी हैं।
सूत्रों के मुताबिक गोविंद सिंह डोटासरा अपने सीकर स्थित निवास पर मौजूद हैं। करीब साढ़े नौ बजे ED के अधिकारी उनके घर पर पहुंचे। पहले पोर्च में बैठकर ही उनसे पूछताछ की गई, इसके बाद घर में बने ऑफिस में पूछताछ के लिए ले जाया गया।
डोटासरा के नजदीकियों पर भी पड़े थे छापे

पेपर लीक मामले में डोटासरा के नजदीकियों पर पहले ED के छापे पड़ चुके हैं। सीकर और कई जगह कलाम कोचिंग सेंटर पर अगस्त-सितंबर में ED के छापे पड़े थे। डोटासरा ने उस समय नजदीकियों को बेवजह परेशान करने के आरोप लगाए थे।

कांग्रेस प्रत्याशी ओमप्रकाश हुड़ला के ठिकानों पर भी ED के छापे

महवा से निर्दलीय विधायक और कांग्रेस उम्मीदवार ओमप्रकाश हुड़ला के ठिकानों पर भी ED ने छापेमारी की है। ED की टीमें दौसा, जयपुर सहित कई जगहों पर हुड़ला के ठिकानों पर पहुंची हैं। गुरुवार सुबह करीब 10 बजे तीन गाड़ियों से ED की टीम मंडावर रोड स्थित विधायक हुड़ला के आवास रामकुटी पर पहुंची और छापेमारी की कार्रवाई शुरू की।

हुड़ला के आवास के अंदर ही बने ऑफिस में ईडी ने दस्तावेज खंगाले। वहीं, महवा में ही भरतपुर रोड पर मिस्त्री मार्केट में विधायक के होटल हुड़ला पार्क में भी ईडी की टीम पहुंची। उस वक्त विधायक होटल में ही मौजूद थे। दो गाड़ियों में पहुंची ईडी की टीम हुड़ला से पूछताछ कर रही है, साथ ही दस्तावेज खंगालने में जुटी है।
विधायक के भाई को डमी कैंडिडेट के साथ किया था गिरफ्तार
जुलाई 2022 में विधायक ओमप्रकाश हुड़ला के भाई हरिओम मीणा का पेपर लीक मामले में नाम सामने आया था। ओमप्रकाश हुड़ला के छोटे भाई हरिआम मीणा और डमी कैंडिडेट को जयपुर के शिवदासपुरा में एक एग्जाम सेंटर के बाहर से गिरफ्तार किया गया था। विधायक के भाई ने पैसे लेकर SSC-MTS की परीक्षा में डमी कैंडिडेट बैठाया था। आरोपी हरिओम मीणा फिलहाल जमानत पर चल रहा है।

हुड़ला के सहयोगी राजेंद्र गुप्ता, सुभाष बालाहेड़ी, CA राजेंद्र गुप्ता और बिजनेस सहयोगी निधि शर्मा के घर भी ईडी ने छापे मारे हैं। सूत्रों के मुताबिक निधि शर्मा के भाई दीपक और ललित भी जांच के दायरे में हैं।
डोटासरा ने कहा था- हम तो ईडी का इंतजार कर रहे हैं, क्या कर लेगी ईडी?

नेताओं के खिलाफ ईडी, इनकम टैक्स की कार्रवाई को लेकर गोविंद सिंह डोटासरा शुरू से ही केंद्र और बीजेपी पर हमलावर रहे हैं। डोटासरा ने कई बार बयान दिए थे कि हम तो इंतजार कर रहे हैं कि कब ईडी और इनकम टैक्स आती है। ईडी और इनकम टैक्स से वो डरता है, जिसने कुछ गलत किया हो, हम तो इंतजार कर रहे हैं कि कब ईडी आती है? क्या कर लेगी ईडी?

बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी ने ईडी की कार्रवाई को लेकर कहा- चोर की दाढ़ी में तिनका। अगर कांग्रेस के नेता इतने ही पाक साफ हैं तो फिर ईडी की कार्रवाई से डर कैसा?
12 दिन पहले सीएम के करीबी के घर हुई थी रेड
पेपर लीक मामले में ईडी राजस्थान में पिछले दो महीने से लगातार कार्रवाई कर रही है। 12 दिन पहले ही ईडी ने सीएम अशोक गहलोत के करीबी दिनेश खोड़निया और उनके रिश्तेदार अशोक जैन के घर पर डूंगरपुर में छापे मारे थे।

GYPSUM POWDER

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *