पुलिस से बचने के लिए हत्या को आत्महत्या का रूप दिया , जांच प्रारम्भ

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!

बीकानेर , 24 अक्टूबर। बीकानेर के श्रीडूंगरगढ़ में शराब के नशे में बड़े भाई ने छोटे भाई की हत्या कर दी। आरोप है कि पुलिस से बचने के लिए हत्या को आत्महत्या का रूप दे दिया गया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

L.C.Baid Childrens Hospiatl

धीरदेसर चोटियान गांव के खेत में संदिग्ध अवस्था में एक शव मिला था। जिसे आत्महत्या बताया गया। बाद में इसी प्रकरण में हत्या का मामला दर्ज करा दिया गया। धीरदेसर चोटियान के सहीराम चोटिया के खेत में कपड़े सुखाने की तणी के तार पर पेमाराम का शव बेल्ट से लटका मिला था। पुलिस ने शव को श्रीडूंगरगढ़ चिकित्सालय पहुंचाया। तणी की ऊंचाई कम होने एवं पतले व कमजोर तार पर व्यक्ति का वजन लेने का शक होने पर मामला संदिग्ध लगा। इसके बाद सीओ गोमाराम जाट व थानाधिकारी अशोक विश्नोई ने घटना स्थल का मौका मुआयना और गहनता से जांच पड़ताल की। इसके बाद हत्या का मामला सामने आया। यहां खेत को काश्त पर लेने वाले ऊमाराम मेघवाल ने सोमवार देर रात को शराब के नशे में अपने छोटे भाई पेमाराम का गला घोंट कर हत्या कर दी थी। बाद में हत्या को आत्महत्या में बदलने का प्रयास करते हुए शव को तणी के सहारे लटकाया था। मामले में मृतक के बेटे पूनमचंद ने अपने ताऊ उमाराम के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है।

समझाइश का हुआ था प्रयास

mona industries bikaner

उमाराम मेघवाल ने गांव के ही सहीराम चोटिया का खेत काश्त पर ले रखा है एवं वह आदतन शराबी है। सोमवार को दिन में उसने शराब के नशे में जम कर उत्पात मचाया और अपने पूरे परिवार को कुएं पर बनी ढाणी से भगा दिया। रात करीब 8 बजे उमाराम के छोटे भाई पेमाराम ने उसे समझाने के लिए उसकी ढाणी पर गया। जहां पर आरोपी उमाराम ने अपने छोटे भाई पेमाराम का गला घोंट कर हत्या कर दी।

पुलिस की समझ से सामने आई कहानी

हत्या के बाद आरोपी ने शव को कपड़े टांगने वाले तार से लटका दी। उसके गले में बेल्ट से फंदा बना दिया। कहानी रची गई कि उसने आत्महत्या कर ली। पुलिस को लगा कि कपड़े टांगने वाली तणी से आदमी कैसे टंग सकता है। इसी कारण सख्ती से पूछताछ की गई तो हत्या का मामला सामने आया। फिलहाल पुलिस की जांच के बाद ही सच सामने आ सकेगा।

थार एक्सप्रेस
CHHAJER GRAPHIS

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *