राजस्थान के मंत्रिमंडल में बीकानेर से कौन आ रहा है

हमारे सोशल मीडिया से जुड़े!

बीकानेर , 16 दिसम्बर। राजस्थान सरकार के मंत्रिमण्डल में बीकानेर से किसको जगह मिलेगी इसको लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है। पिछली सरकार में बीकानेर से दो केबिनेट व एक राज्य मंत्री के अलावा कई बोर्डों के अध्यक्ष भी थे। परन्तु इस बार राजस्थान में प्रचण्ड बहुमत लेकर आयी भाजपा को सभी को साधने का काम भी करना होगा। कांग्रेस के कद्दावर नेता बी.डी. कल्ला को हराने व तथा संघ को खुश रखने की निति के चलते जेठानन्द व्यास की संभावना से नाकारा नहीं जा सकता।

L.C.Baid Childrens Hospiatl

चार बार लगता जीतकर आ रही सिद्धीकुमारी महिला होने के नाते भी हकदार है और अगर सिद्धि कुमारी को मंत्रिमण्डल में लेतेहैं तो भाजपा अपना भविष्य ही सुरक्षित करेगी। अजाजजा से खाजूवाला विधायक विश्वनाथ मेघवाल को संसदीय सचिव में समायोजित किया जा सकता है। कोलायत विधायक अंशुमन सिंह निश्चित रूप से पहली बार विधायक बने हैं तथा संभवतया सबसे काम उम्र के विधायक हैं।

schoks manufacring

मुख्यमंत्री का देवीसिंह भाटी से पुराना रिश्ता है और जब भाटी ने सामजिक न्याय मंच से पुरे राजस्थान में चुनाव लड़ा था तो भजनलाल शर्मा भी भाजपा से बागी होकर सामाजिक न्याय मंच से ही चुनाव लड़े थे। यह अलग बात है की राजस्थान में सामजिक न्याय मंच को तब्बजो नहीं मिली थी। परन्तु उस रिश्ते का फायदा भाटी पूरा उठाना चाहेंगे।

इधर बीकानेर पश्चिम के विधायक जेठानन्द व्यास ने जयपुर में मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा से शनिवार को मुलाकात की। इस दौरान बीकानेर से जुड़े कई मुद्दों पर बातचीत हुई। व्यास ने मुख्यमंत्री का स्वागत और अभिनन्दन किया।

विधायक व्यास ने मुख्यमंत्री से कहा कि साधारण परिवार के प्रतिनिधि को प्रदेश के मुखिया के रूप में पाकर हम उत्साहित है। उन्होंने विश्वास जताया कि शर्मा के नेतृत्व में प्रदेश विकास की नई बुलंदियों को छुएगा। सरकार आम आदमी की आवाज बनकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय के अंत्योदय के स्वप्न को साकार करेगी। विधायक व्यास ने मुख्यमंत्री को बीकानेर से जुड़ी प्राथमिकताओं के बारे में भी बताया तथा इनके लिए सकारात्मक निर्णय लिए जाने का आग्रह किया। बीकानेर से जुड़ी दशकों पुरानी समस्याओं के बारे में भी मुख्यमंत्री को संक्षेप में जानकारी दी गई है।

कई दिनों से जयपुर में

विधायक व्यास पिछले कई दिनों से जयपुर में हैं और भाजपा के शीर्ष नेतृत्व के संपर्क में है। व्यास को मंत्रिमंडल में शामिल करने की चर्चाओं के बीच उनकी जयपुर में व्यस्तता भी बढ़ गई है। व्यास ने पिछले दिनों में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी से भी मुलाकात की। इसके अलावा संघ से जुड़े कई पदाधिकारियों से भी व्यास लगातार संपर्क में है।

मंत्री पद की चर्चा

बीकानेर जिले की सात में से छह सीट लेने वाली भाजपा यहां से केबिनेट और राज्य मंत्री के पद देगी। ऐसे में चर्चा है कि बीकानेर पश्चिम से विधायक जेठानन्द व्यास को भी मंत्री पद मिल सकता है। व्यास के अलावा सुमित गोदारा, सिद्धि कुमारी और डॉ. विश्वनाथ मेघवाल का दावा मजबूत माना जा रहा है। पिछली कांग्रेस सरकार में बीकानेर से तीन विधायक थे और तीनों को मंत्री बनाया गया था।

GYPSUM POWDER

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *